प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना : ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन, जरूरी दस्तावेज ।

Sharing Is Caring:

हैलो दोस्तों आज हम आप लोगों को प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के बारे में बताने वाले हैं, यदि आप एक बेरोजगार युवा हैं और आप इस योजना के तहत लाभ उठाना चाहते हैं और आप जानना चाहते हैं की, प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना क्या है, इस योजना का क्या उद्देश्य है, प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के क्या क्या लाभ हैं और इस योजना की क्या पात्रता रखी गई है और यदि आप प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का आवेदन करना चाहते हैं तो आवेदन करने के लिए क्या क्या दस्तावेज लगेगा और प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, सारी जानकारी हम आप लोगों को बताने वाले हैं तो चलिए अब जान लेते हैं ।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना क्या है ?

दोस्तों वप्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का आरम्भ केंद्र सरकार के द्वारा किया गया है, इस योजना के अंतर्गत इस देश के छोटे और लघु कारोबार करने वाले कारोबारियों को उनके व्यवसाय और राजस्व को ऊँचे पैमाने पर लेकर जाने के लिए मदद के तौर पर धनराशि की एक सब्सिडी प्रदान की जाती है और केंद्र सरकार के द्वारा कारोबारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा । इसके साथ साथ देश के कारोबारियों को अपने कारोबार और खाद्य सामग्री में सुधार लेने के लिए मदद प्रदान की जाएगी, दोस्तों प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना की मदद से देश के युवाओं को रोजगार मिलेगा । भारत सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत पहले वर्ष का खर्चा सरकार उठाएगी और इसके साथ साथ ट्रेनिंग, MIS, प्रशासनिक मदद योजना के प्रचार वा प्रसार का खर्च भी किया जायेगा ।

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना : ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

* योजना का आरम्भ केंद्र सरकार के द्वारा किया गया है.
* योजना के अंतर्गत इस देश के छोटे और लघु कारोबार करने वाले कारोबारियों को उनके व्यवसाय और राजस्व को ऊँचे पैमाने पर लेकर जाने के लिए मदद के तौर पर धनराशि की एक सब्सिडी प्रदान की जाती है.
* केंद्र सरकार के द्वारा कारोबारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा.
* योजना की मदद से देश के युवाओं को रोजगार मिलेगा.
* योजना के अंतर्गत पहले वर्ष का खर्चा सरकार उठाएगी और इसके साथ साथ ट्रेनिंग, MIS, प्रशासनिक मदद योजना के प्रचार वा प्रसार का खर्च भी किया जायेगा.

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के मुख्य उद्देश्य की बात करें तो दोस्तों आप लोग तो जानते ही होंगे कि कोरोना वायरस महामारी के वजह से देश में लॉक डाउन लगाना पड़ गया था, जिसके कारण देश मे कारोबार और राजस्व में बहुत दिक्कत आयी है और बहुत से उद्योग रुक भी गए इसी सब को देखते हुए प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का आरम्भ किया गया है । इस योजना के जरिए देश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार देना है, इस योजना से बेरोजगारों को मदद करने का उद्देश्य यही रखा गया है की वे किसी दूसरे पर निर्भर ना रहें और अपना एक रोजगार कर सकें । तो यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रखा गया है ।

* योजना के जरिए देश के बेरोजगार युवाओं को रोजगार देना है.
* योजना से बेरोजगारों को मदद करने का उद्देश्य यही रखा गया है की वे किसी दूसरे पर निर्भर ना रहें और अपना एक रोजगार कर सकें.

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना की क्या पात्रता रखी गई है ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना की पात्रताओं की बात करें तो आवेदक कर्ता भारत का स्थायी मूल निवासी होना चाहिए, और आवेदक की उम्र 18 वर्ष से ज्यादा होनी चाहिए तभी इस योजना का पात्र माना जायेगा । प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना में सिर्फ परिवार के एक ही व्यक्ति सहायता प्राप्त करने के लिए पात्र माने जाएंगे । तो ये सभी पात्रताएँ है जो इस योजना के अंतर्गत रखी गई है ।

* आवेदक कर्ता भारत का स्थायी मूल निवासी होना चाहिए, और आवेदक की उम्र 18 वर्ष से ज्यादा होनी चाहिए.
* योजना में सिर्फ परिवार के एक ही व्यक्ति सहायता प्राप्त करने के लिए पात्र माने जाएंगे.

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के क्या क्या लाभ हैं ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के लाभ की बात करें तो इस योजना का लाभ देश के सभी बेरोजगार युवाओं को दिया जायेगा, प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार और राज्य के जरिए 60:40 अनुपात रखा गया है । इसके तहत 60 प्रतिशत केंद्र सरकार और 40 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा खर्च किया जायेगा, दोस्तों प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना को 2024-25 तक चलाया जायेगा । तो ये सभी लाभ हैं जो इस योजना के अंतर्गत दिए जायेंगे ।

* योजना का लाभ देश के सभी बेरोजगार युवाओं को दिया जायेगा.
* योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार और राज्य के जरिए 60:40 अनुपात रखा गया है.
* इसके तहत 60 प्रतिशत केंद्र सरकार और 40 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा खर्च किया जायेगा.

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का आवेदन के लिए क्या क्या दस्तावेज लगेंगे ?

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना के लिए जरूरी दस्तावेजों की बात करें तो इसमे आवेदक कर्ता का आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, स्थायी प्रमाण पत्र, बैंक खाता पासबुक, मोबाइल नंबर, पासपोर्ट साइज फ़ोटो । तो ये सभी पात्रताएँ है जो आपके पास होने चाहिए तभी आप इस योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे ।

* आधार कार्ड.
* आय प्रमाण पत्र.
* स्थायी प्रमाण पत्र.
* बैंक खाता पासबुक.
* मोबाइल नंबर.
* पासपोर्ट साइज फ़ोटो.

प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया ?

दोस्तों अगर आप प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उन्नयन योजना का ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा, उसके बाद आपके सामने होम पृष्टि खुलकर आ जायेगा ।

उसके बाद आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा, अब आपके सामने एक नया पृष्टि खुलकर आ जायेगा । उसके बाद आपको Sign Up के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा, अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जायेगा । उसके बाद आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारीयों को ध्यानपूर्वक भरकर Ragister बटन पर क्लिक कर देना है, अब आपको पोर्टल पर लॉगिन करना होगा । उसके बाद Select Beneficiary Type आवेदक का प्रकार को चुनना होगा, अब आपको अपना यूजर आईडी और पासवर्ड को भरना होगा और सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है । उसके बाद अप्लाई नाउ के ऑप्शन पर क्लिक करना है और आवेदन फॉर्म आपके सामने खुलकर आ जायेगा, अब आपको आवेदन फॉर्म में सभी जरूरी विवरण भरकर जरूरी दस्तावेजों को अटैच करना है । उसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है, तो दोस्तों इस तरीके से आप इस योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!