प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना : पंजीकरण तरीका, पात्रता, लाभ । PM Matritva Vandana Yojana

Sharing Is Caring:

हेलो दोस्तों आज हम आप लोगों को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के बारे में बताने वाले हैं, यदि आप इस योजना के तहत लाभ उठाना चाहते हैं और आप जानना चाहते हैं की, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है, इस योजना का क्या उद्देश्य है,  प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की क्या पात्रता रखी गई है और इस योजन से क्या लाभ है और इस योजना का आवेदन करने के लिए क्या क्या दस्तावेज लगेगा और प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का आवेदन कैसे करें सारी जानकारी हम आप लोगों को बताने वाले हैं तो चलिए अब जान लेते हैं ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है ?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2017 को श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश की गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और देखभाल के लिए की गयी ।इसे महिला एवं बाल विकास द्वारा संचालन किया जाता है, इस योजना में लगभग 1.75 करोड़ से भी अधिक महिलाएँ शामिल होकर इस योजना लाभ प्राप्त कर चुकी हैं, केंद्र सरकार ने 2018 से 2020 तक प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में 5931.95 करोड़ रुपये की सहायता राशि महिलाओं को दी गई है । प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत महिलाओं को लगभग 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है ताकि वे अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ख्याल रख सकें और गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन से भरपूर आहार ले सकें । इस योजना से मिलने वाली धन राशि 3 क़िस्त में मिलती है आप को बता दें कि पहली क़िस्त 1000 रुपये गर्भधारण का पंजीकरण करने पर दी जाती है और दूसरी क़िस्त 2000 रुपये की जन्म से पहले कम से कम एक बार जाँच कराने पर और तीसरी क़िस्त जो है वो भी 2000 रुपये बच्चे के जन्म का पंजीकरण करने और पहले जीवित बच्चे के टीकाकरण का पहला चक्र पूर्ण होने पर दिया जाता है, और इसके साथ साथ लाभर्ती गर्भवती महिलाओं को बचे हुए 1000 रुपये की धन राशि जननी सुरक्षा योजना के तहत मिलती है तो इस प्रकार से कुल मिलाकर 6000 रुपये की धन राशि पात्र को दिया जाता है ।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना : पंजीकरण तरीका, पात्रता, लाभ

* योजना की शुरुआत 1 जनवरी 2017 को श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश की गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और देखभाल के लिए की गयी.
* इसे महिला एवं बाल विकास द्वारा संचालन किया जाता है.
* योजना में लगभग 1.75 करोड़ से भी अधिक महिलाएँ शामिल होकर इस योजना लाभ प्राप्त कर चुकी हैं.
* केंद्र सरकार ने 2018 से 2020 तक प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में 5931.95 करोड़ रुपये की सहायता राशि महिलाओं को दी गई है.
* योजना के अंतर्गत महिलाओं को लगभग 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है ताकि वे अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ख्याल रख सकें और गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन से भरपूर आहार ले सकें.
* योजना से मिलने वाली धन राशि 3 क़िस्त में मिलती है.

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का क्या उद्देश्य है ?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य की बात करें तो देश की गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और बच्चे को कुपोषण होने से बचाना है यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रखा गया है । आप लोगों को पता ही होगा कि हमारे देश के बहुत से गरीब पैसों की तंगी के कारण गर्भधारण के दौरान उनकी देखभाल अच्छे से नही हो पाती है और बच्चे के जन्म के समय बच्चे को और उसके माँ को पोषण युक्त खाना नही मिल पाता है जिससे वे लोग कुपोषण का शिकार हो जाते हैं । इसी सब को देखते हुए PM मोदी ने मातृत्व वंदना योजना की शुरुआत की है । तो यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रखा गया है ।

* देश की गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य और बच्चे को कुपोषण होने से बचाना है यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रखा गया है.

मातृत्व वंदना योजना की क्या पात्रता रखी गई है ?

मातृत्व वंदना योजना की पात्रताओं की बात करें तो जो महिला 19 साल या उससे अधिक उम्र की हैं वही इस योजना की पात्र होंगी, और अगर महिला कोई नौकरी कर रही हैं तो वो इस योजना के पात्र नही होंगी । यदि महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तो वो भी इस योजना के पात्र नही मानी जायेंगी और 1 जनवरी 2017 से और उसके बाद में होने वाली गर्भवती महिलाएं इस योजना का आवेदन कर सकती हैं । तो ये सभी पात्रताएँ हैं जो इस योजना के अंतर्गत रखी गई है ।

* जो महिला 19 साल या उससे अधिक उम्र की हैं वही इस योजना की पात्र होंगी.
* अगर महिला कोई नौकरी कर रही हैं तो वो इस योजना के पात्र नही होंगी.
* यदि महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तो वो भी इस योजना के पात्र नही मानी जायेंगी.
* 1 जनवरी 2017 से और उसके बाद में होने वाली गर्भवती महिलाएं इस योजना का आवेदन कर सकती हैं.

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का क्या लाभ है ?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की लाभ की बात करें तो योजना में माँ और बच्चे को 6 हजार रुपये की धन राशि का लाभ दिया जायेगा ताकि वे अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ख्याल रख सकें, और यह धन राशि 3 किस्तो में दी जाती है । यह धन राशि उनको महिला एवं बाल विकास विभाग प्रदान करता है, लाभर्ती महिला कोई नौकरी कर रही हैं तो उन्हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा । यदि महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तो उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा । इस योजना का लाभ उन सभी महिलाओं को मिलेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और मजदूर वर्ग से हैं । तो ये सभी लाभ है जो इस योजना के अंतर्गत दिए जाते हैं ।

* योजना में माँ और बच्चे को 6 हजार रुपये की धन राशि का लाभ दिया जायेगा ताकि वे अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ख्याल रख सकें.
* यह धन राशि 3 किस्तो में दी जाती है, यह धन राशि उनको महिला एवं बाल विकास विभाग प्रदान करता है.
* लाभर्ती महिला कोई नौकरी कर रही हैं तो उन्हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा.
* यदि महिला का गर्भपात या बच्चा मृत पैदा होता है तो उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.
* योजना का लाभ उन सभी महिलाओं को मिलेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं और मजदूर वर्ग से हैं.

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का आवेदन करने के लिए क्या क्या जरूरी दस्तावेज लगेगा ?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की जरूरी दस्तावेज की बात करें तो इसमें आवेदक कर्ता का आधार कार्ड, राशन कार्ड, पहचान पत्र, बैंक खाता पासबुक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक, वोटर आईडी कार्ड पति और पत्नी दोनों का, बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फ़ोटो, स्वास्थ कार्ड, लाभार्थी और उसके पति द्वारा एक मंजूरी पत्र । तो ये सभी दस्तावेज हैं जो आपको देने होंगे तभी आप इस योजना के लिए आवेदन कर पाएंगे ।

* आधार कार्ड.
* राशन कार्ड.
* पहचान पत्र.
* बैंक खाता पासबुक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक.
* वोटर आईडी कार्ड पति और पत्नी दोनों का.
* बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र.
* पासपोर्ट साइज फ़ोटो.
* स्वास्थ कार्ड.
* लाभार्थी और उसके पति द्वारा एक मंजूरी पत्र.

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का पंजीकरण करने का क्या तरीका है ?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का पंजीकरण करने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा । उसके बाद आपके सामने होम पृष्टि खुलकर आ जायेगा । अब यहाँ पर आपको “Beneficiary Login” का विकल्प दिखाई देगा उसपर आपको क्लिक कर देना है ।

अब आपको नीचे की तरफ एक ऑप्शन “For Registering New User” करके दिखाई देगा और उसके Just बगल ही Click Here लिखा दिखाई देगा उसपर आपको क्लिक कर देना है ।

उसके बाद आप नेक्स्ट पृष्टि पर आ जाएंगे यहाँ पर आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आयेगा । अब इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारीयों को अच्छे से सही सही भरना होगा जैसे लाभर्ती का नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, ओ टी पी और कैप्चा कोड भी भरना होगा ।

उसके बाद आपको फॉर्म के दाहिने तरफ Hint Question या Hint Answer यानी उसका उत्तर भरने को कहा गया है, आपको ये सब जानकारी आगे चलकर अगर आप पासवर्ड भूल जाते हैं तो पासवर्ड भूलने की स्थिति में इसका इस्तेमाल किया जायेगा । इसके बाद आपको Ragister के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है ।

तो इस तरीके से आप इस योजना के लिए पंजीकरण कर पायेंगे ।

4 thoughts on “प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना : पंजीकरण तरीका, पात्रता, लाभ । PM Matritva Vandana Yojana”

Leave a Comment

error: Content is protected !!