राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना : आवेदन करने का तरीका, उद्देश्य, लाभ, पात्रता । Rajasthan Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana

Sharing Is Caring:

हेलो दोस्तों आज हम आप लोगों को राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के बारे में बतायेंगे, यदि आप एक स्टूडेंट हैं और आप प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए फ्री में कोचिंग करना चाहते हैं और इस योजना के अंतर्गत लाभ उठाना चाहते हैं और जानना चाहते हैं की, राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है, राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का उद्देश्य क्या है और इस योजन से क्या फायदा है और इस योजना के लिए क्या पात्रताएँ रखी गई है और इसमें क्या क्या दस्तावेज लगेगा और राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का आवेदन कैसे करें सारी जानकारी हम आप लोगों को बताएंगे तो चलिए अब जान लेते हैं ।

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है ?

राजस्थान सरकार के द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी के होनहार विद्यार्थियों के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए आर्थिक सहयोग के साथ साथ रहने तथा खाने पीने की उचित व्यवस्था करने के लिए एक योजना शुरू की गई है । जिसे राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का नाम दिया गया है, और यह योजना विद्यार्थियों के लिए पूरे के वर्ष की समयावधि तक राजस्थान तथा केंद्र सरकार द्वारा निकाली जाने वाली अभियर्थियों की तैयारी करने का अवसर प्रदान करेगी । इस योजना का लाभ उन विद्यार्थियों को दिया जायेगा, जिनके परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रुपये से कम है । तथा इसके अलावा कक्षा 10 तथा 12 के अंकों को भी आधार मानकर विद्यार्थियों का चयन किया जायेगा और इस योजना के तहत यह भी मानदंड रखा जायेगा कि चुने हुए विद्यार्थियों में कम से कम 50 % प्रतिशत बालिकाएं हों ।

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना : आवेदन करने का तरीका, उद्देश्य, लाभ, पात्रता

* यह योजना विद्यार्थियों के लिए पूरे के वर्ष की समयावधि तक राजस्थान तथा केंद्र सरकार द्वारा निकाली जाने वाली अभियर्थियों की तैयारी करने का अवसर प्रदान करेगी.
* योजना का लाभ उन विद्यार्थियों को दिया जायेगा, जिनके परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रुपये से कम है.

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का क्या उद्देश्य है ?

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की उद्देश्य की बात करें तो इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रोफेशनल कोर्स यानी ( NEET, JEE, CLAT ) तथा इनके अलावा अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी जैसे – ( IAS, RAS, SI, PATWARI, REET, LDC, CONSTABLE, PAY MATRIC LEVEL – 5 से ऊपर सभी परीक्षाएं के लिए सबल प्रदान करना है । सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं के सम्मान अवसर प्रदान करना है । तो यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य रखा गया है ।

* योजना का उद्देश्यसभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं के सम्मान अवसर प्रदान करना है.

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के क्या क्या लाभ हैं ?

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की लाभ की बात करें तो इस योजना के पात्र विद्यार्थियों को हर साल 40 हज़ार रुपये रहने तथा खाने पीने की व्यवस्था दिए जायेंगे और विद्यार्थी सभी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे । प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को अपना करियर बनाने के लिए अवसर प्रदान किये जायेंगे और आर्थिक स्थिति से कमजोर वर्ग के अभ्यर्थियों को भी शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे । शिक्षा के क्षेत्र में सुधार तथा प्रगति होगी । तो ये सभी लाभ है जो आपको इस योजना के अंतर्गत दिए जाने वाले हैं ।

* योजना के पात्र विद्यार्थियों को हर साल 40 हज़ार रुपये रहने तथा खाने पीने की व्यवस्था दिए जायेंगे.
* प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को अपना करियर बनाने के लिए अवसर प्रदान किये जायेंगे और आर्थिक स्थिति से कमजोर वर्ग के अभ्यर्थियों को भी शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने के अवसर मिलेंगे.
* शिक्षा के क्षेत्र में सुधार तथा प्रगति होगी.

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की क्या पात्रता रखी गई है ?

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की पात्रताओं की बात करें तो विद्यार्थी राजस्थान राज्य का स्थायी मूल निवासी होना चाहिये, और इस योजना का लाभ वे ही विद्यार्थी ले सकेंगे जिनकी परिवार की सालाना कमाई 8 लाख रुपये से कम हो । UPSC तथा RPSC सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले मेधावी विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा । राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत चयनित विद्यार्थियों में से कम से कम 50 % प्रतिशत बालिकाओं को शामिल किया जायेगा । इस योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया में कक्षा 10 तथा 12 के प्राप्तांकों को भी पात्रता दी जायेगी । EWS श्रेणी के विद्यार्थी भी इस योजना के पात्र होंगे और ST वर्ग के लिए योजना का संचालन जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा किया जायेगा । और SC, OBC, MBC और EWS वर्ग के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालन किया जायेगा । अल्पसंख्यक वर्ग के लिए अल्पसंख्यक मामलात के द्वारा इस विभाग की निगरानी की जायेगी । चयनित अभ्यर्थियों के लिए निर्धारित किये गए विभाग उचित कोचिंग की व्यवस्था करेंगे और योजना के संचालन के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के नियुक्त किया जायेगा । यह विभाग प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थानों एवं अन्य संस्थानों के एम्पेनलमेन्ट का काम भी संभालेगा ताकि विद्यार्थियों को उचित कोचिंग करवाई जा सके । जिनके माता या पिता सरकारी नौकरी कर रहे हैं उन्हें पे मैट्रिक लेवल – 11 का लाभ प्राप्त नही होने पर ही सरकारी सहायता दी जायेगी । तो ये सभी पात्रताएँ है जो इस योजना के अंतर्गत रखी गई है, अगर आप इस सभी पात्रताओं का पालन करते हैं तभी आप इस योजना के पात्र होंगे ।

* विद्यार्थी राजस्थान राज्य का स्थायी मूल निवासी होना चाहिये.
* योजना का लाभ वे ही विद्यार्थी ले सकेंगे जिनकी परिवार की सालाना कमाई 8 लाख रुपये से कम हो.
* UPSC तथा RPSC सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले मेधावी विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा.
* योजना के अंतर्गत चयनित विद्यार्थियों में से कम से कम 50 % प्रतिशत बालिकाओं को शामिल किया जायेगा.
* योजना के अंतर्गत चयन प्रक्रिया में कक्षा 10 तथा 12 के प्राप्तांकों को भी पात्रता दी जायेगी.
* EWS श्रेणी के विद्यार्थी भी इस योजना के पात्र होंगे और ST वर्ग के लिए योजना का संचालन जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा किया जायेगा.
* जिनके माता या पिता सरकारी नौकरी कर रहे हैं उन्हें पे मैट्रिक लेवल – 11 का लाभ प्राप्त नही होने पर ही सरकारी सहायता दी जायेगी.

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए आपके पास क्या क्या दस्तावेज होने चाहिए ?

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की दस्तावेजों की बात करें तो आवेदक के पास आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, जाती प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, जन आधार कार्ड, गत वर्ष की पास की हुई परीक्षा का अंकतालिका, अभियार्थी का खुद का बैंक खाता नम्बर, बैंक IFSC कोड, ब्रांच का नाम और 10 और 12 कि अंकतालिका के साथ साथ योजना के अंतर्गत शैक्षणिक योग्यता सम्बंधित दस्तावेज होने चाहिए । तो ये सभी दस्तावेज है जो आपके पास होने चाहिए तभी आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

* आधार कार्ड.
* आय प्रमाण पत्र.
* जाती प्रमाण पत्र.
* मूल निवास प्रमाण पत्र.
* राशन कार्ड.
* जन आधार कार्ड.
* गत वर्ष की पास की हुई परीक्षा का अंकतालिका.
* अभियार्थी का खुद का बैंक खाता नम्बर.
* बैंक IFSC कोड.
* ब्रांच का नाम.
* 10 और 12 कि अंकतालिका के साथ साथ योजना के अंतर्गत शैक्षणिक योग्यता सम्बंधित दस्तावेज होने चाहिए.

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का आवेदन करने का तरीका ?

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का आवेदन करने के लिए सबसे पहले अपको इस योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा । उसके बाद आपके सामने होम पृष्टि खुलकर आ जायेगा ।

अब आपको इस वेबसाइट के होम पृष्टि पर रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है उसके बाद आपके सामने एक पेज खुल जाएगा । इस पेज पर आपको आवेदन पत्र दिखाई देगा अब आपको इस फॉर्म को डाउनलोड कर लेना है । अब आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को अच्छी से सही सही भर देना है, और जरूरी दस्तावेजों को जोड़ देना है उसके बाद इस आवेदन फॉर्म को आपको जिले के विभागीय जिलाधिकारी को जमा कर देना है, तो इस तरीके से राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना का आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी ।

1 thought on “राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना : आवेदन करने का तरीका, उद्देश्य, लाभ, पात्रता । Rajasthan Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana”

Leave a Comment

error: Content is protected !!